MIW vs UPW: किरण नवगिरे और ग्रेस हैरिस के तूफान में उड़ी मुंबई, डिफेंडिंग चैंपियन को मिली हार


MIW vs UW Match Report: वीमेंस प्रीमियर लीग 2024 सीजन के छठे मैच में मुंबई इंडियंस और यूपी वारियर्ज की टीमें आमने-सामने थी. इस मैच में यूपी वारियर्ज ने डिफेंडिंग चैंपियन मुंबई इंडियंस को आसानी से हरा दिया. इस तरह मुंबई इंडियंस को सीजन की पहली हार मिली. यूपी वारियर्ज के सामने जीत के लिए 162 रनों का टारेगट था. एलिसा हीली की अगुवाई वाली टीम ने 16.3 ओवर में 3 विकेट पर लक्ष्य हासिल कर लिया.

इससे पहले यूपी वारियर्ज की कप्तान एलिसा हीली ने टॉस जीतकर गेंदबाजी करने का फैसला किया था. मुंबई इंडियंस अपने नियमित कप्तान हरमनप्रीत कौर और शबनीम इस्माइल के बिना उतरी थी. हरमनप्रीत कौर की गैरमौजूदगी में नेट सीवर ब्रंट ने मुंबई इंडियंस की अगुवाई की.

एलिसा हीली और किरण नवगिरे ने मैच को बनाया एकतरफा

मुंबई इंडियंस के 161 रनों के जवाब में बल्लेबाजी करने उतरी यूपी वारियर्ज की शुरूआत शानदार रही. यूपी वारियर्ज की ओपनर एलिसा हीली और किरण नवगिरे ने पहले विकेट के लिए 9 ओवर में 94 रन जोड़े. किरण नवगिरे ने 31 गेंदों पर 57 रन बनाए. उन्होंने अपनी पारी में 6 चौके और 4 छक्के जड़े. जबकि एलिसा हीली ने 29 गेंदों पर 5 चौकों की मदद से 33 रनों की पारी खेली. हैरी ग्रेस ने 17 गेंदों पर 38 रन बनाकर शानदार फिनिश किया. वहीं, दीप्ति शर्मा 20 गेंदों पर 27 रन बनाकर नॉटआउट लौटीं.

मुंबई इंडियंस के गेंदबाजों की बात करें तो इस्सी वॉन्ग सबसे कामयाब गेंदबाज रही. इस्सी वॉन्ग ने यूपी वारियर्ज के 2 बल्लेबाजों को अपना शिकार बनाया. जबकि अमेलिया कैर को 1 कामयाबी मिली.

ऐसा रहा मुंबई-यूपी मुकाबले का हाल

इससे पहले टॉस हारकर बल्लेबाजी करने उतरी मुंबई इंडियंस की शुरूआत अच्छी रही. मुंबई इंडियंस की ओपनर हैली मैथ्यूज और यास्तिका भाटिया ने पहले विकेट के लिए 50 रन जोड़े. लेकिन इसके बाद नियमित अंतराल पर बल्लेबाज पवैलियन का रूख करते रहे. मुंबई इंडियंस के लिए ओपनर हैली मैथ्यूज ने सबसे ज्यादा 47 गेंदों पर 55 रन बनाए. उन्होंने अपनी पारी में 9 चौके और 1 छक्का लगाया. यूपी वारियर्ज के लिए अंजली सरवानी, ग्रेस हैरिस, सोफिया एक्लेस्टोन, दीप्ति शर्मा और राजेश्वरी गायकवाड़ को 1-1 कामयाबी मिली.

ये भी पढ़ें-

बीसीसीआई का नया सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट जारी, विराट-रोहित के अलावा ये खिलाड़ी भी कमाएंगे 7 करोड़ रुपये

T20I Fastest Century: नामीबिया के जान निकोल लॉफ्टी-ईटन ने जड़ा सबसे तेज़ शतक, रोहित-मिलर समेत तमाम दिग्गजों को पछाड़ा 



Source link

BCCI Central Contract: युजवेन्द्र चहल, पुजारा और अंजिक्य रहाणे के लिए क्यों रास्ते हुए बंद


Cheteshwar Pujara And Ajinkya Rahane: बीसीसीआई ने नया सेन्ट्रल कॉन्ट्रैक्ट जारी कर दिया है. इस सेन्ट्रल कॉन्ट्रेक्ट में कई युवा चेहरों को शामिल किया गया, तो कई बड़े खिलाड़ियों को जगह नहीं मिली. युजवेन्द्र चहल, चेतेश्वर पुजारा और अंजिक्य रहाणे जैसे बड़े खिलाड़ियों को जगह बीसीसीआई ने नया सेन्ट्रल कॉन्ट्रैक्ट का हिस्सा नहीं बनाया. अब सवाल है कि क्या इन सीनियर खिलाड़ियों के लिए टीम इंडिया के रास्ते बंद हो गए हैं? चेतेश्वर पुजारा और अंजिक्य रहाणे लंबे वक्त तक भारतीय टेस्ट टीम का हिस्सा रहे. वहीं, युजवेन्द्र चहल वनडे और टी20 फॉर्मेट में लगातार खेलते रहे.

टीम इंडिया के रास्ते हुए बंद!

भारतीय टीम इंग्लैंड के खिलाफ 5 टेस्ट मैचों की सीरीज खेल रही है. इस टेस्ट सीरीज में चेतेश्वर पुजारा और अंजिक्य रहाणे को भारतीय टीम का हिस्सा नहीं बनाया, बल्कि शुभमन गिल, रजत पाटीदार और सरफराज खान जैसे युवा खिलाड़ियों पर दांव खेला गया. ऐसा माना जा रहा है कि इन युवा खिलाड़ियों कारण चेतेश्वर पुजारा और अंजिक्य रहाणे जैसे सीनियर खिलाड़ियों के लिए वापसी बेहद चुनौतीपूर्ण होगी. लिहाजा, अब इन खिलाड़ियों को सेन्ट्रल कॉन्ट्रैक्ट गवांना पड़ा.

इन वजहों से दोनों खिलाड़ियों पर गिरी गाज!

चेतेश्वर पुजारा की उम्र तकरीबन 36 साल है. इसके अलावा वह खराब फॉर्म से जूझ रहे थे. वहीं, अंजिक्य रहाणे भी 35 साल से ज्यादा के हो चुके हैं. इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में इन खिलाड़ियों के ऊपर बीसीसीआई ने युवा खिलाड़ियों को तरजीह दी. इस तरह बीसीसीआई ने तकरीबन अपना रूख साफ कर दिया है.

युजवेन्द्र चहल की टीम इंडिया में वापसी संभव है?

वहीं, युजवेन्द्र चहल की बात करें तो वह लंबे वक्त तक भारतीय लिमिटेड ओवर टीम का हिस्सा रहे. लेकिन पिछले काफी से भारतीय टीम से बाहर चल रहे हैं. 33 वर्षीय युजवेन्द्र चहल ने 72 वनडे मैचों के अलावा 80 टी20 मैचों में भारत का प्रतिनिधित्व किया है. वनडे फॉर्मेट में 121 जबकि टी20 मैचों में 96 विकेट झटके. लेकिन अब बीसीसीआई रवि बिश्नोई जैसे युवा खिलाड़ियों को तवज्जों दे रही है. जिस तरह रवि बिश्नोई ने टी20 फॉर्मेट में अपनी छाप छोड़ी है, उसे देखते हुए युजवेन्द्र चहल के लिए टीम इंडिया में वापसी बेहद मुश्किल होने वाली है.

ये भी पढ़ें-

बीसीसीआई का नया सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट जारी, विराट-रोहित के अलावा ये खिलाड़ी भी कमाएंगे 7 करोड़ रुपये

T20I Fastest Century: नामीबिया के जान निकोल लॉफ्टी-ईटन ने जड़ा सबसे तेज़ शतक, रोहित-मिलर समेत तमाम दिग्गजों को पछाड़ा 



Source link

IND vs ENG: धर्मशाला टेस्ट से सरफराज और ध्रुव की लगेगी लॉटरी, करोड़ों की कमाई होना तय


Dhruv Jurel & Sarfaraz Khan BCCI Contract: आज बीसीसीआई ने अपना नया सेन्ट्रल कॉन्ट्रैक्ट जारी किया. इस सेन्ट्रल कॉन्ट्रैक्ट में कई नए चेहरों को पहली बार जगह मिली. जबकि नए सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट में अंजिक्य रहाणे के अलावा शिखर धवन, उमेश यादव और युजवेन्द्र चहल जैसे बड़े खिलाड़ियों की छुट्टी कर दी गई. बहरहाल, पिछले दिनों इंग्लैंड टेस्ट सीरीज में भारत के युवा विकेटकीपर बल्लेबाज ध्रुव जुरेल और मिडिल ऑर्डर बल्लेबाज सरफराज खान ने डेब्यू किया था. अब ध्रुव जुरेल और सरफराज खान के लिए अच्छी खबर सामने आ रही है.

धर्मशाला टेस्ट के बाद जुरेल और सरफराज को मिलेगा सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट!

बीसीसीआई नए सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट में ध्रुव जुरेल और सरफराज खान को शामिल नहीं किया गया. लेकिन अब दोनों युवा खिलाड़ियों के लिए अच्छी खबर है. दरअसल, भारत और इंग्लैंड के बीच सीरीज का पांचवां टेस्ट धर्मशाला में खेला जाएगा. अगर धर्मशाला टेस्ट में ध्रुव जुरेल और सरफराज खान टीम इंडिया की प्लेइंग इलेवन का हिस्सा होते हैं तो दोनों खिलाड़ियों को बीसीसीआई सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट मिल जाएगा. दोनों युवा बल्लेबाज ग्रेड सी का हिस्सा होंगे.

रांची टेस्ट में हीरो बनकर उभरे ध्रुव जुरेल

इससे पहले तीसरे टेस्ट में सरफराज खान ने अपने डेब्यू किया. सरफराज खान ने अपने डेब्यू टेस्ट की दोनों पारियों में पचास रनों का आंकड़ा छुआ. राजकोट टेस्ट की पहली पारी में 66 रन बनाए. जबकि दूसरी पारी में 62 रन बनाकर नॉटआउट लौटे. वहीं, रांची टेस्ट में ध्रुव जुरेल ने अपने शानदार खेल से टीम इंडिया को जीत दिलाई. पहली पारी में ध्रुव जुरेल ने 90 रनों की पारी खेली. इसके बाद दूसरी पारी में मुश्किल वक्त में शुभमन गिल संग बेहतरीन साझेदारी की. इस शानदार प्रदर्श के लिए ध्रुव जुरेल को प्लेयर ऑफ द मैच से नवाजा गया.

ये भी पढ़ें-

बीसीसीआई का नया सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट जारी, विराट-रोहित के अलावा ये खिलाड़ी भी कमाएंगे 7 करोड़ रुपये

T20I Fastest Century: नामीबिया के जान निकोल लॉफ्टी-ईटन ने जड़ा सबसे तेज़ शतक, रोहित-मिलर समेत तमाम दिग्गजों को पछाड़ा 



Source link

बीसीसीआई ने श्रेयस अय्यर और ईशान किशन पर कार्रवाई कर क्या मैसेज दिया?



<p style="text-align: justify;">बीसीसीआई ने ईशान किशन और श्रेयस अय्यर की सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट से छुट्टी कर सख्त मैसेज दिया है. बीसीसीआई ने साफ कर दिया है कि नेशनल टीम के साथ नहीं होने वाले खिलाड़ियों को हर हाल में घरेलू क्रिकेट को तवज्जो देना होगा. जो भी खिलाड़ी घरेलू क्रिकेट को अनदेखा करेगा उन्हें भविष्य में ईशान किशन और श्रेयस अय्यर के जैसी कार्रवाई झेलनी पड़ सकती है. ईशान किशन और श्रेयस अय्यर ने बीसीसीआई सचिन जय शाह की चेतावनी को गंभीरता से नहीं लिया और इस बात का खामियाजा उन्हें भुगतना पड़ा है.</p>
<p style="text-align: justify;">दरअसल, &nbsp;इस पूरे विवाद की शुरुआत दक्षिण अफ्रीका से हुई. ईशान किशन ने मानसिक स्वास्थ्य का हवाला देकर टीम इंडिया से नाम वापस ले लिया. इसके बाद इंग्लैंड सीरीज के लिए ईशान किशन को टीम में जगह नहीं मिली. यह सवाल उठा कि क्यों किशन को टीम में नहीं लिया जा रहा है. जिसके जवाब में टीम इंडिया के कोच राहुल द्रविड़ ने साफ कर दिया कि किशन को टीम इंडिया में वापसी करने के लिए घरेलू क्रिकेट खेलना होगा. लेकिन इसके बावजूद किशन ने रणजी ट्रॉफी से लगातार दूरी बनाए रखी और झारखंड के लिए एक भी मैच नहीं खेला.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>बीसीसीआई का मैसेज</strong></p>
<p style="text-align: justify;">श्रेयस अय्यर भी इंग्लैंड के खिलाफ खेली जा रही सीरीज के दौरान ही विवादों में फंस गए. अय्यर को टेस्ट टीम में जगह मिली थी. लेकिन दो टेस्ट में खराब प्रदर्शन के बाद अय्यर को टीम इंडिया से बाहर निकाल दिया गया. इसके बाद अय्यर ने भी रणजी ट्रॉफी को अनदेखा कर दिया. इतना ही नहीं रणजी ट्रॉफी नहीं खेलने के लिए अय्यर ने चोटिल होने का बहाना बनाया. लेकिन नेशनल क्रिकेट एकेडमी की ओर साफ कर दिया गया कि अय्यर रणजी ट्रॉफी खेलने के लिए पूरी तरह से फिट हैं.</p>
<p style="text-align: justify;">बीसीसीआई सचिव जय शाह को सीनियर खिलाड़ियों का रणजी ट्रॉफी नहीं खेलना रास नहीं आया. हाल ही में बीसीसीआई की ओर से एक लेटर जारी कर कहा गया कि जो भी खिलाड़ी नेशनल ड्यूटी पर नहीं हैं वो घरेलू क्रिकेट को अनदेखा नहीं कर सकते. लेकिन अय्यर और किशन ने इस बात को गंभीरता से नहीं लिया. बीसीसीआई ने अब कार्रवाई कर संकेत दे दिया है कि कोई भी खिलाड़ी आईपीएल को तवज्जो देकर घरेलू क्रिकेट को अनदेखा नहीं कर सकता है. अगर भविष्य में कोई खिलाड़ी ऐसा करता है तो फिर टीम इंडिया में उसकी जगह सवालों के घेरे में रहेगी.</p>



Source link

बीसीसीआई का नया सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट जारी, विराट-रोहित के अलावा ये खिलाड़ी भी कमाएंगे 7 करोड़…


BCCI Central Contract & Salary: बीसीसीआई ने खिलाड़ियों का नया सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट जारी कर दिया है. बीसीसीआई के सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट कुल 40 खिलाड़ियों को शामिल किया गया है. इस सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट में विकेटकीपर बल्लेबाज ईशान किशन और मिडिल ऑर्डर बल्लेबाज श्रेयस अय्यर को जगह नहीं मिली है. ऐसा कहा जा रहा है कि रणजी ट्रॉफी में हिस्सा नहीं लेने की वजह से बीसीसीआई ने ईशान किशन और श्रेयस अय्यर पर एक्शन लिया है. इससे पहले पिछले सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट में अय्यर ग्रेड बी और ईशान ग्रेड सी में थे.

इन खिलाड़ियों की सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट से हुई छुट्टी

बीसीसीआई के नए सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट में अंजिक्य रहाणे के अलावा शिखर धवन, उमेश यादव और युजवेन्द्र चहल जैसे बड़े खिलाड़ियों को शामिल नहीं किया गया है.

किस खिलाड़ी को किस ग्रेड में मिली जगह 

बीसीसीआई के सेन्ट्रल कॉन्ट्रैक्ट में रोहित शर्मा के अलावा विराट कोहली, जसप्रीत बुमराह और रविन्द्र जडेजा को ग्रेड ए प्लस में रखा गया है. जबकि आर अश्विन, मोहम्मद शमी, मोहम्मद सिराज, केएल राहुल, शुभमन गिल और हार्दिक पंड्या को ग्रेड ए में जगह मिली है.

इन खिलाड़ियों को ग्रेड बी में मिली जगह

सूर्यकुमार यादव, ऋषभ पंत, कुलदीप यादव, अक्षर पटेल और यशस्वी जयसवाल को ग्रेड बी कॉन्ट्रैक्ट मिला है. हालांकि, इससे पहले भारतीय विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत ग्रेड ए में थे, लेकिन अब इस खिलाड़ी को ग्रेड बी में शामिल किया गया है. दरअसल, ऋषभ पंत हादसे के बाद से क्रिकेट मैदान से दूर हैं. यह विकेटकीपर बल्लेबाज लंबे वक्त से मैदान पर नहीं दिखा है. लिहाजा, अब बीसीसीआई के सेन्ट्रल कॉन्ट्रैक्ट में नुकसान हुआ है.

रिंकू सिंह समेत ग्रेड सी में ये खिलाड़ी हैं शामिल

रिंकू सिंह, तिलक वर्मा, रुतुराज गायकवाड, शार्दुल ठाकुर, शिवम दुबे, रवि बिश्नोई, जितेश शर्मा, वाशिंगटन सुंदर, मुकेश कुमार, संजू सैमसन, अर्शदीप सिंह, केएस भरत, प्रसिद्ध कृष्णा, अवेश खान और रजत पाटीदार को ग्रेड सी में जगह मिली है.

किस ग्रेड के खिलाड़ी को कितनी सैलरी मिलेगी?

बताते चलें कि प्लस ए कैटेगरी के खिलाड़ियों को सलाना 7 करोड़ रुपए मिलते हैं. इस तरह रोहित शर्मा के अलावा विराट कोहली, जसप्रीत बुमराह और रविन्द्र जडेजा को सलाना 7 करोड़ रुपए मिलेंगे. जबकि ग्रेड ए के खिलाड़ियों को सलाना 5 करोड़ रुपए मिलेंगे.

ग्रेड बी खिलाड़ियों की सैलरी कितनी होगी?

जबकि ग्रेड बी के खिलाड़ियों को सलाना 3 करोड़ रुपए मिलते हैं. इसके अलावा ग्रेड सी खिलाड़ियों को सलाना 1 करोड़ रुपए मिलेंगे.

इस कैटेगरी में रिंकू सिंह, तिलक वर्मा, रुतुराज गायकवाड, शार्दुल ठाकुर, शिवम दुबे, रवि बिश्नोई, जितेश शर्मा, वाशिंगटन सुंदर, मुकेश कुमार, संजू सैमसन, अर्शदीप सिंह, केएस भरत, प्रसिद्ध कृष्णा, अवेश खान और रजत पाटीदार जैसे नाम शामिल हैं.

ए प्लस ग्रेड में शामिल खिलाड़ी-

रोहित शर्मा, विराट कोहली, जसप्रीत बुमराह और रविन्द्र जडेजा

ए ग्रेड में शामिल खिलाड़ी-

आर अश्विन, मोहम्मद शमी, मोहम्मद सिराज, केएल राहुल, शुभमन गिल और हार्दिक पंड्या

ग्रेड बी में शामिल खिलाड़ी-

सूर्यकुमार यादव, ऋषभ पंत, कुलदीप यादव, अक्षर पटेल और यशस्वी जयसवाल

ग्रेड सी में शामिल खिलाड़ी-

रिंकू सिंह, तिलक वर्मा, रुतुराज गायकवाड, शार्दुल ठाकुर, शिवम दुबे, रवि बिश्नोई, जितेश शर्मा, वाशिंगटन सुंदर, मुकेश कुमार, संजू सैमसन, अर्शदीप सिंह, केएस भरत, प्रसिद्ध कृष्णा, अवेश खान और रजत पाटीदार

ये भी पढ़ें-

WPL Points Table 2024: पॉइंट्स टेबल में RCB का टॉप पर कब्जा, जानें किस नंबर पर है आपकी फेवरेट टीम

T20I Fastest Century: नामीबिया के जान निकोल लॉफ्टी-ईटन ने जड़ा सबसे तेज़ शतक, रोहित-मिलर समेत तमाम दिग्गजों को पछाड़ा 



Source link